कहते हैं पुनर्जन्म के फल
भोगने पड़ते हैं इस जनम में
तो क्या मिल जाता है
इस जनम का वो ही
प्यार , सोहार्द , अपनापन
अगले जनम में भी ।

- दीप्ति शर्मा 

Comments

Popular posts from this blog

बस यूँ ही

डायरी के पन्नें

मैं